ट्रेनिंग के दौरान किया चुदाई

desi porn chodai kahani, hindi sex stories मेरा नाम सोनू है और मैं कक्षा 12वीं में पढ़ने वाला एक छात्र हूं। मेरी उम्र 17 वर्ष है और मैं अपने स्कूल का सबसे एक्टिव स्टूडेंट हूं। हमारे स्कूल में जितने भी प्रतियोगिताएं होती हैं उन सब में मैं हिस्सा लेता हूं और सब टीचर मुझे बहुत ही पसंद करते हैं। मुझे भी बहुत अच्छा लगता है जब मैं प्रतियोगिता में हिस्सा लेता हूं। मेरे पिताजी हमेशा ही मुझे कहते रहते हैं तुम बहुत ही अच्छे हो पढ़ने में इसलिए तुम अपनी पढ़ाई में पूरा ध्यान दिया करो। उसके बाद तुम किसी अच्छी प्रतियोगिताओं की तैयारी करना।

जिससे कि तुम एक अच्छी जगह पर नौकरी पा सको। एक बार हमारे स्कूल में खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन हमारे स्कूल के द्वारा किया गया। उसमें और स्कूलों से भी बच्चे आए हुए थे। उनके साथ में टीचर भी आई हुई थी। मैंने भी प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया हुआ था। मैंने एक मैडम देखी तो वह मुझे बहुत ही सुंदर लगी और ना जाने मुझे उनकी तरफ अट्रैक्शन सा हो गया। अब मैं उनका नाम जानने के लिए उत्सुक हो गया। क्योंकि मैं किसी भी तरीके से उनका नाम जानना चाहता था। उनकी शादी नहीं हुई थी। मेरे स्कूल के टीचरों से मेरी बहुत ही अच्छी बातचीत थी तो मैंने अपनी एक मैडम से पूछा जिन मैडम ने पिंक कलर की साड़ी पहनी हुई है क्या आप उन्हें जानते हैं। वह कहने लगे की हां उनका नाम मालती है।

मुझे उन मैडम का नाम पता चल चुका था और मैं बहुत ही खुश था। मैं जब अपने घर गया तो मैंने मालती मैडम को फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड कर दी लेकिन उन्होंने मेरी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट नहीं की थी और मेरी फ्रेंड रिक्वेस्ट पेंडिंग में ही पड़ी हुई थी। अब हमारे स्कूल की प्रतियोगिताएं भी समाप्त हो चुकी थी। मैं चाहता था मालती मैडम से मेरी बात हो पाए। एक दिन उन्होंने मेरी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लिया और जब उन्होंने मुझसे पूछा क्या मैं तुम्हें जानती हूं। तब मैंने उन्हें बताया कि हां आप हमारे स्कूल में कुछ दिन पहले आई थी। अब हमारी बात मैसेजेस में ही होने लगी और वह मेरे बारे में पूछने लगी।

Chodai story सेक्सी बीवी को नशे ने चोदा दोस्त ने

मैं भी उनके बारे में पूछ लिया करता था। एक बार मैंने मालती मैडम से पूछा क्या आप मुझे ट्यूशन पढ़ा सकती हैं। मैं घर पर ही पढ़ाई कर रहा हूं। परंतु अब मैं चाहता हूं कि मैं इस वर्ष अच्छे अंको से पास हो जाऊं और उसके लिए मैं ट्यूशन पढ़ना चाहता हूं। वह कहने लगे कि मैं तुम्हें ट्यूशन पढ़ा दूंगी। उनके पास बहुत सारे बच्चे ट्यूशन पढ़ने आया करते थे और मैं भी उनके पास ट्यूशन पढ़ने के लिए चला गया। जब मैं उनके पास पहले दिन ट्यूशन पढ़ने गया तो उन्होंने मुझसे पूछा, तुमने अब तक अपने स्कूल में क्या पढ़ाई की है। मैंने उन्हें सब कुछ बता दिया कि मैंने स्कूल में कितना पढ़ा है। अब वह शुरू से मुझे पढ़ाने लगी। जब भी मालती मैडम मुझे पढ़ाती तो मैं उनकी तरफ देखा करता था।

मुझे बहुत ही अच्छा लगता है जब मैं उनकी तरफ देखता जाता हूं लेकिन जैसे ही वह मुझे देखती तो मैं अपनी नजरें झुका लिया करता हूं। मुझे उन्हें देखकर शर्म लगती थी और अब ऐसे ही हमारी बात होती चली गई। वह मुझे बहुत ही अच्छा पढ़ाती थी। वह जब भी मुझे पढ़ाती तो मुझे सब कुछ समझ आ जाया करता। कुछ दिनों बाद उनकी इंगेजमेंट होने वाली थी और जब उनकी इंगेजमेंट हुई तो उन्होंने हमें मिठाई भी खिलाई थी। मुझे अंदर ही अंदर से बहुत बुरा भी लग रहा था और मैं सोच रहा था की काश मैं बड़ा होता तो मैं मालती मैडम से शादी कर पाता लेकिन मेरी उम्र बहुत ही कम है और वह मुझसे बड़ी थी। अब मेरा पढ़ाई में भी मन नहीं लग रहा था और मैं पढ़ाई भी नहीं कर पा रहा था। मालती मैडम मुझे बहुत डांट दिया करती थी और कहती थी कि तुम पढ़ाई में अपना ध्यान नहीं लगा रहे हो।

अगर तुम इसी तरीके से पढ़ते रहोगे तो तुम अच्छे नंबर नहीं ला पाओगे। मैं उन्हें कहता कि आजकल पता नहीं क्यों मेरा मन पढ़ाई में नहीं लग पा रहा है। मेरे दिमाग में बहुत सारी चीजें चल रही है इसकी वजह से मैं अच्छे से पढ़ भी नहीं पा रहा हूं। जब मैंने उनसे यह बात कही तो वह मुझे कहने लगी तुम मुझे बताओ तुम्हारे दिमाग में क्या चीज चल रही है। मैंने सोचा मैं इन्हें बताऊंगा तो मैडम को बुरा लग जाएगा लेकिन मैंने हिम्मत करते हुए उन्हें बताइए दिया कि आपके लिए मेरे दिल में कुछ फीलिंग है तो वह जोर जोर से हंसने लगी और कहने लगी अभी तुम्हारी उम्र बहुत कम है। तुम्हें पता नहीं है कि मेरी इंगेजमेंट हो चुकी है।

मैंने उन्हें कहा मुझे तो पता है लेकिन मेरे दिल में आपके लिए ऐसा कुछ हुआ तो वही मैंने आपको बताया। उन्होंने मुझे कहा कि अभी तो मैं बिजी हूं। तुम एक काम करना कल तुम थोड़ा जल्दी आ जाना। उसके बाद में मैं तुमसे इस बारे में बात करूंगी। अगले दिन जब मैं जल्दी चला गया तो मैडम मुझे कहने लगी तुम इन फालतू चीजों में मत पड़ो। तुम सिर्फ अपना ध्यान पढ़ाई पर रखो। वह मुझे बहुत ही ज्यादा समझा रही थी लेकिन मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था। क्योंकि मेरे दिल में उनके लिए कुछ चीजें चल रही थी।

वह मुझे इतना समझा रही थी लेकिन मेरे दिमाग में कुछ भी बात नहीं घुस रही थी। मैं सिर्फ उसके होठों को देख रहा था और उसके बड़े बड़े स्तनों को देखे जा रहा था। मैंने उसे कसकर पकड़ लिया और अपने नीचे दबोच लिया। वह छटपटाने लगी लेकिन मैंने उसके होठों को अपने होठों में किस करना शुरू किया तो उसकी सारे समझदारी उसकी चूत मे चली गई और उसकी चूत से पानी टपकने लगा। अब मैंने उसके सारे कपड़े खोल दिया और उसके स्तनों को अपने मुंह में समा लिया। जब मैंने उसका बदन देखा तो वह बहुत ही ज्यादा गोरा और मुलायम था। मैंने उसके स्तनों को बहुत ही अच्छे से चाटा उसके स्तनों से थोड़ा बहुत दूध भी निकल रहा था। मैंने जब अपने लंड को बाहर निकाला तो वह हैरान रह गई और उसने तुरंत ही अपने हाथों में मेरे मोटे लंड को ले लिया। उसने अपने मुंह के अंदर लंड को समा लिया।

Ghapaghap chodai लौड़े में दम नहीं फिर भी हम किसी से कम नहीं

मैंने भी इतना तेज धक्का मारा कि उसके गले के अंदर तक मेरा लंड चला गया। अब उसकी उत्तेजना बहुत बढ़ चुकी थी मैंने उसके चूत के अंदर अपने लंड को जैसे ही डाला तो उसकी हालत खराब हो गई और वह बड़ी तेज आवाज में चिल्लाने लगी। मुझे बड़ा ही मजा आ रहा था जब मैं उसे धक्के दिए जा रहा था। मैंने इतनी तेजी से उसे चोदना शुरू किया कि उसका पूरा शरीर हिलता जा रहा था और वह मुझसे कह रही थी सोनू तुम तो मुझे बहुत ही अच्छे से चोद रहे हो। उसने अपने दोनों पैरों को भी खोल लिया था अब वह बहुत ज्यादा मूड में आ गई तो मैंने उसे अपने लंड के ऊपर बैठा लिया। जैसे ही मैंने उससे अपने ऊपर बैठाया तो उसकी योनि के अंदर मेरा पूरा लंड जा चुका था। अब मैंने बड़ी तेजी से उसे धक्का देना शुरु कर दिया था और मेरा शरीर भी पूरा  गर्म होने लगा था।

वह भी पूरे मूड में आ गई मुझसे मालती मैडम के स्तनों को देखा नहीं जा रहा था और मैं उन्हें अपने मुंह में लेकर चूस रहा था। मैंने उन पर अपने दांत भी काट दिए थे जिससे कि मुझे बड़ा मजा आता और उन्हें भी बहुत आनंद आ रहा था। अब वह अपनी चूतड़ों को इतनी तेजी से ऊपर नीचे करने लगी कि मेरा लंड बुरी तरीके से छिल चुका था उनकी योनि भी बहुत बुरी तरीके से रगड़ रही थी। मुझे इतना मजा आ रहा था मैंने उनके होठों को किस करते हुए थोड़े समय बाद उन्हें घोडी बना दिया। मैंने जैसे ही उनकी योनि में अपने लंड को डाला तो वह चिल्ला उठी मुझे बहुत मजा आया जब मैंने उनकी योनि में अपने लंड को डाला।

वह भी अपने चूतड़ों को मुझसे सटाए जा रही थी और बहुत ही मजे ले रही थी। जैसे ही मैं उन्हें आगे की तरह  धक्के देता तो वह अपने चूतड़ों को पीछे कर लेती। उनके चूतड़ों से बहुत तेज फच फच की आवाज आ रही थी। उनकी बड़ी-बड़ी चूतडे मेरे हाथ में भी नहीं आ रही थी फिर भी मैंने उन्हें कस कर पकड़ा हुआ था। मुझे इतना मजा आ रहा था उन्हें धक्के देने में कि मेरा शरीर पूरा गर्मी छोड़ने लगा और उनकी योनि से भी आग निकलने लगी। मुझे प्रतीत हो गया कि थोड़े समय बाद मेरा वीर्य गिरने वाला है और मैंने बड़ी तेज तेज झटके दिए उन्हीं झटकों के बीच में मेरा वीर्य पतन हो गया।

मालती मैडम उसके बाद मुझे कुछ नहीं कहती और अपनी चूत मुझसे ही मरवाती हैं।

Leave a Comment